Friday, October 16, 2009

नक्सली हमले में मारे गये इंस्पेक्टर फ्रांसिस के परिवार से मिले राहुल गांधी

नक्सलियों के हमले में मारे गये इंस्पेक्टर फ्रांसिस इंदवार की पत्नी सुनीता ने कांग्रेस महासचिव राहुल गांधी को बताया कि नक्सवाद पर रोक लगाने के लिये ग्रामीण इलाकों में मूलभूत सुविधाओं की व्यवस्था करनी होगी - जैसे शिक्षा, स्वास्थ्य और सड़क आदि। सुनिता और उनके तीनों बच्चों से मिलने कांग्रेस महासचिव राहुल गांधी खुद गये थे। क्योंकि कुछ दिनों पहले नक्सलियों ने इंस्पेक्टर फ्रांसिस की बेरहमी से हत्या कर दी थी। राहुल गांधी ने खुद पूछा कि नक्सवाद को मुख्यधारा में लाया जा सकता है।

इंस्पेक्टर के परिवार वालों से राहुल गांधी ने कहा कि आत्मघाती हमले में पिता को खोने का दर्द वे समझते हैं। उन्होंने इंदवार की पत्नी सुनीता और तीनों बच्चो को हिम्मत देते हुए कहा कि तमिलनाडु के श्रीपेरूम्बुदूर में उन्होंने भी अपने पिता को खो दिया था।
1991 में आत्मघाती हमले में उनके पिता की हत्या कर दी गई थी। उन्होंने बच्चो से कहा कि आप अच्छे से पढाई करना।

अपने दो दिवसीय झारखंड दौरे के दौरान राहुल गांधी ने इंदवार के परिवार के यहां लगभग 20 मिनट बताय़े। राहुल गांधी ने इस बात पर भी विचार करना शुरू कर दिया है कि नक्सलियों को मुख्यधारा में कैसे लाया जाये। उनकी बुनियादी समस्याओं को समझ उसे कैसे दूर किया जाये।

1 comment:

दिनेशराय द्विवेदी Dineshrai Dwivedi said...

नक्सलवाद की जड़ें यहीं हैं।